top of page

नेत्र रोगों के प्रति जागरूकता को लेकर आरा में एकदिवसीय वर्कशॉप

सिने आजकल भोजपुर बिहार-

नेत्र रोगों के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए तथा नेत्र विशेषज्ञों के बीच आधुनिकतम विधि से उपचार के प्रसार के लिए 28 जनवरी को आरा के माधवी नेत्रालय, रमना रोड द्वारा एक वर्कशाप आयोजित किया गया। इस वर्कशॉप में नेत्र रोगों से संबंधित विभिन्न रोगों के लिए उपलब्ध आधुनिकतम तकनीक पर चर्चा की गई। इसमें देश के विभिन्न भागों से लगभग 40 नेत्र विशेषज्ञों ने भाग लिया। इस वर्कशॉप में कोलकाता के प्रसिद्ध नेत्र चिकित्सक एवं ऑल इंडिया आप्थाल्मालॉजिकल सोसायटी के साइंटिफिक कमेटी के सदस्य डॉक्टर प्रदीप मोहंता ने अपने सक्रिय भागीदारी दी, साथ में पटना आईजीआईएमएस के नेत्र विभाग के अध्यक्ष डॉ विभूति प्रसन्न सिंह , बेतिया मेडिकल कॉलेज के विभागाध्यक्ष डॉ सुधीर कुमार , दरभंगा मेडिकल कॉलेज के विभागाध्यक्ष डॉ आसिफ शाहनवाज, अखंड ज्योति आंख अस्पताल, मस्तीचक के मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, डॉ अजीत पोद्दार, बिहार

आप्थाल्मोलोजिकल सोसायटी के मानद सचिव डॉ सत्यजीत सिन्हा , पटना के डॉ के एस गुप्ता, डॉ नागेंद्र प्रसाद, डॉ सुनील सिंह डॉ सुजीत मिश्रा , डॉ सत्य प्रकाश तिवारी, डॉ आशीष शेखर , डॉ पूजा सिन्हा, डॉ अभिषेक केडिया ने आपने विचार व्यक्त कर अपनी सक्रिय भागीदारी दी। आज की तकनीक में बिना टांका बिना पट्टी के सफलतम मोतियाबिंद ऑपरेशन किया जा रहा है तथा विभिन्न सुरक्षा उपायों से आंख के कई रोगों से बचा भी जा सकता है।

इस आयोजन के प्रमुख डॉक्टर निलेश कुमार ने कहा कि इस वर्कशाप के माध्यम से हम आधुनिकतम नेत्र शल्य तकनीक को लोगों के बीच पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में शाहाबाद क्षेत्र के भी प्रमुख नेत्र विशेषज्ञ डॉ एस के केडिया, डॉ एस के रुंगटा, डॉ मनोज कुमार सिंह ,डॉ अखिल जैन, डॉ एस के प्रसाद ,डॉ कन्हैया सिंह, डॉ रवि रंजन, डॉ अमिताभ सिंह आदि सक्रिय रूप से अपनी भागीदारी दिए तथा अपने अपने विचार व्यक्त किए। इस आयोजन में विभिन्न मेडिकल कॉलेज के नेत्र विभाग के 25 रेजिडेंट डॉ भी अपने शंका समाधान के लिए सक्रिय दिखे। उम्मीद है इस वर्कशाप से पूरा जनपद लाभान्वित होगा।

सी मीडिया आरा से संजय श्रीवास्तव

bottom of page