एमसीडी चुनाव के लिए नामांकन के अंतिम दिन उमड़ी भीड़।

---------------------------------

उषा पाठक/अर्चना सिंह

सिने आजकल नयी दिल्ली,14 नवम्बर 2022(एजेंसी)।एमसीडी चुनाव के लिए नामांकन के आज आखिरी दिन विभिन्न केंद्रों पर भारी भीड़ उमड़ पड़ी।देर तक टोकन प्राप्त कर प्रत्याशियों को अपनी बारी का इंतजार करना पड़ा।इस वजह से राजधानी में जगह जगह जाम लगा रहा।

राज्य निर्वाचन कार्यालय के अनुसार जो प्रत्याशी निर्धारित समय के अंदर टोकन प्राप्त कर चुके होंगे उनका नामांकन देर तक भी स्वीकार किया जायेगा।समाचार लिखे जाने तक प्रक्रिया जारी थीं।

प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ केंद्रों पर पहुँचकर नामांकन की प्रक्रिया पूरी कर रहे हैं।कांग्रेस,भाजपा एवं आप के प्रत्याशियों की पूरी सूची शनिवार एवं रविवार को जारी होने की वजह से भीड़ अधिक रही।वैसे बागी भी स्वतंत्र प्रत्याशी के रूप में काफी संख्या में नामांकन दाखिल करने पहुँचे थे।

सूत्रों के अनुसार बागियों की सबसे अधिक संख्या भाजपा,आप एवं कांग्रेस से थीं।इस चुनाव में बसपा एवं कुछ स्थानों पर जेडीयू ने भी प्रत्याशी घोषित किये हैं,मगर बागियों की संख्या अधिक रही।

प्रसिद्ध समाज सेविका श्रीमती जयंती झा ने वार्ड संख्या 153 वसंत विहार से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन दाखिल किया।इस मौके पर काफी संख्या में पूर्वांचली मौजूद थे।

समाजसेवी आर सी ठाकुर के अनुसार वार्ड संख्या 23 रिठाला से चंचल चौधरी एवं वार्ड संख्या 246 श्री राम कालोनी करावल नगर से वलीम भाई ने जेडीयू से पर्चा दाखिल किए।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के नोएडा से सटे न्यू अशोकनगर वार्ड से भाजपा के पूर्व नेता सत्येंद्र शर्मा ने स्वतंत्र प्रत्याशी के रूप में अपना पर्चा दाखिल किया।

स्थानीय नेता रवि शंकर सिंह के अनुसार श्री शर्मा ने गीता कालोनी स्थित कार्यालय में अपना पर्चा दाखिल किया।इस मौके पर उनके साथ विभिन्न दलों के नेता मौजूद थे।

दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए 7 नवम्बर को नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही बड़े पैमाने पर नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के दल बदल के संकेत मिलने लगे थे।

नामांकन के पहले सिर्फ एक प्रत्याशी ने ग्रीन पार्क से निर्दलीय नामाकंन पत्र दाखिला किया था।कुल 68 स्थानों पर नामांकन की प्रक्रिया शुरू की गयी थी,जहां सुरक्षा के खास प्रबंद्ध किये गए थे।

उधर भाजपा प्रदेश कार्यालय,आप मुख्यालय एवं प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में टिकटार्थियों का कल तक मेला लगा रहा।।भाजपा के कई पार्षद पुनः टिकट नहीं मिलने को लेकर बेचैन दिखे।

इस बेचैनी के संबंध में पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि महोदया पार्षद बनने के बाद न सिर्फ क्षेत्र की जनता से दूर रहीं,वल्कि पार्टी कार्यक्रमों में भी कभी कभार दिखाई देती थीं।

भाजपा पूर्वान्चल प्रकोष्ठ के एक नेता ने राजधानी के नोएडा से सटे वार्ड 190 न्यू अशोक नगर की एक घटना का जिक्र करते हुए बताया क़ि पार्टी की एक पूर्व पार्षद बागी बन चुनाव लड़ी और हार गयी,लेकिन इस बार उनके पति को प्रत्याशी घोषित कर दिया गया।आखिर दूसरों का क्या होगा?

आप में भी यही हालत है।किरारी इलाके की एक महिला दावेदार ने तो यहाँ तक कह दिया कि एक नेता ने टिकट दिलाने के नाम पर उनसे 40 लाख रुपये झटक लिए।वह आनन् फानन में कांग्रेस में शामिल हो गयी,लेकिन वहां भी उन्हें कुछ हाथ नहीं लगा।।

उधर दक्षिणी निगम में प्रतिपक्ष के नेता रहे प्रेम सिंह चौहान के खिलाफ पार्टी कार्यकर्ता खुला प्रदर्शन कर रहे थे।इस प्रदर्शन से कार्यालय का माहौल अस्त व्यस्त हो गया।किसी तरह स्थिति को संभाला गया प्रदर्शनकारियों का कहना था कि अगर ऐसे लोगों को फिर से टिकट दिया गया तो भगदड़ मचना स्वभाविक है।एल.एस।

NOVEMBER 2022
OCTOBER 2022
MARCH 2022
JUNE 2021
October  2021
OCTOBER 2018

MAGAZINE COVER